धर्म

इछावर: रोक दिया प्राचीन मंदिर जाने का रास्ता, आक्रोशित नागरिकों ने प्रशासन को कराया अवगत

सैकड़ों वर्ष पुरान‍ा है गांवतालाब वाला हनुमान मंदिर

मंदिर जाने का रास्ता रोका, श्रद्धालुओं मे आक्रोश,
एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

शिवराज सिंह राजपूत, इछावर
एमपी मीडिया पाइंट

सीहोर जिले के इछावर तहसील मुख्यालय पर प्राचीन हनुमान मंदिर है जिसपर हजारों लोगों की गहरी आस्था है। इस एतिहासिक और चमत्कारिक मंदिर के पहुंच मार्ग को दो व्यक्तियों द्वारा तार फैंसिंग कर रोक दिया गया जिससे नागरिकों मे अच्छा-खासा आक्रोश व्याप्त है। मंगलवार को नागरिकों ने तहसील कार्यालय पहुंच एसडीएम से ज्ञापन सौंपते हुए रास्ता खुलवाने की मांग की।

नागरिकों ने कहा कि इछावर का प्राचीन हनुमान मंदिर नगर से एक किलोमीटर दूर मोगरा रोड पर स्थित है जिसे गांव तालाब वाले हनुमान मंदिर के नाम से जाना जाता है। सैकड़ों वर्ष पुराने इस चमत्कारिक और सिद्ध स्थल पर नागरिकों की गहरी आस्था है लेकिन कुछ दिन पूर्व इछावर निवासी दो व्यक्तियों ने तार फैंसिंग कर रास्ता रोक दिया। मना करने पर राजस्व रिकार्ड की दुहाई देने लगे, जबकि बुजुर्ग बताते हैं कि मंदिर सैकड़ों वर्ष पुराना है उसके आसपास की जमीन पर कुछ लोगों ने अवैध कब्जा करते हुए राजस्व रिकार्ड मे हेराफेरी करवा कर अपने नाम करवाई और बेंची भी।
ज्ञापन मे कहा गया है कि गांव तालाब व‍ाले हनुमान मंदिर का रास्ता खुलवाया जाए क्योंकि श्रद्धालुओं को वहां पहुंचने मे भारी मुसीबतों का सामना करना पड़ रहा है।

ज्ञापन सौंपने वालों मे मंदिर अध्यक्ष बद्री वर्मा,उपाध्यक्ष कमल वर्मा,सचिव दिनेश कुमार मेवाडा ,कमलसिंह खींची, दिनेश मेवाड़ा,दिनेश धनगर,राजेंद्र वर्मा ,अनिकेत ठाकुर,अतिराजसिंह खींची, राहुल वर्मा,अंकित शर्मा,सौरभ मकरेया,विकास पांडे,मांगीर गोस्वामी,शुभम वर्मा,छोटू राठौड़ ,अमित माली,सुनील धनराज यादव,तिलकराम दरबार ,रितिक धनगर,आकाश सीखलोदिया,नीरज प्रजापति शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close