सीहोर

चुनावी बिगुल बजा…

एमपी मीडिया पॉइंट,नई दिल्ली

आगामी दस मार्च को पांच राज्यों की सरकार का निर्धारण हो जाएगा। चुनाव आयोग ने उत्तरप्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर के चुनावों की तारीख घोषित कर दी हैं।
उत्तरप्रदेश में जहां सात चरणों के मतदान के बाद तय होगा कि किसकी सरकार बनेगी। जबकि मणिपुर में दो चरणों में मतदान होगा। पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में एक ही चरण में मतदान सम्पन्न हो जाएगा।
चुनाव आयोग ने उत्‍तराखंड, पंजाब और गोवा में मतदान के लिए 14 फरवरी का दिन तय किया है। उत्‍तर प्रदेश में पहले चरण का मतदान 10 फरवरी, दूसरा चरण 14 फरवरी, तीसरा चरण 20 फरवरी, चौथा चरण 23 फरवरी, पांचवां चरण 27 फरवरी, छठा चरण 3 मार्च, सातवें चरण का मतदान 7 मार्च को होगा। मणिपुर में पहले चरण की वोटिंग 27 फरवरी और दूसरे चरण के लिए 3 मार्च को वोटिंग होगी। सभी राज्‍यों के नतीजे 10 मार्च को घोषित कर दिए जाएंगे।
मुख्‍य चुनाव आयुक्‍त ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस में बताया कि इन चुनावों में 18 करोड़ से ज्यादा वोटर हिस्सा लेंगे।
18.34 मतदाता अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। 24.9 लाख वोटर पहली बार वोट डालेंगे।
मतदान केंद्रों की संख्या 2,15,368 है, 2017 के विधानसभा चुनावों से मतदान केंद्रों की संख्या 16% बढ़ाई गई है।
80 वर्ष से अधिक उम्र के वरिष्ठ नागरिक, दिव्यांग व्यक्ति और कोविड-19 पॉजिटिव व्यक्ति पोस्टल बैलेट से मतदान कर सकते हैं।

खास बिंदु
-हर विधानसभा क्षेत्र में कम से कम एक पोलिंग स्टेशन ऐसा होगा जिसका संचालन पूरी तरह से महिलाएं करेंगी।
-कुल 900 पर्यवेक्षक चुनाव प्रक्रिया पर नजर रखेंगे, जरूरी होने पर स्पेशल ऑब्जर्वर भी तैनात किए जाएंगे।
-चुनाव की अधिसूचना जारी होने के साथ ही पांचों राज्यों में आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है।
-दोपहर 3.30 बजे चुनाव आयोग ने विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान किया।
-उत्‍तर प्रदेश, उत्‍तराखंड, पंजाब, गोवा और मणिपुर में विधानसभा चुनाव सम्पन्न होंगे।
-कोविड-19 महामारी को देखते हुए चुनाव आयोग ने खास प्रोटोकॉल जारी किया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close