सीहोर

नाहक अवैध कब्जा

सीहोर,एमपी मीडिया पॉइंट

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की विधानसभा में कभी-कभी ऐसी घटनाएं सामने आती है जो दिल को दहला देती है कुछ इसी तरह नसरुल्लागंज तहसील में देखने को मिला जहुर बी और उनके पति जुम्मा खां, ने मजदूरी कर के गुजारी अपनी जिंदगी ठेला चला कर अपने परिवार का पालन पोषण करते थे
सन् 1972 मे आमिर खान का देहांत हो गया था।
जहूर बी का कहना है कि मैं मेरे पिताऔर मेरे पति हम लोग अनपढ़ थे , मुझे और मेरे पिता को अक्षर ज्ञान नहीं था, हम लोग निरक्षर थे तो लेनदेन एवं कृषि कार्य के खाद बीज की खरीदी- फरोख्त के लिया हमारे पड़ोस में रहने वाले सईद खां पिता रसूल खां को मेरे पिता आगे रखते थे एवं पूरे बाहर के कार्य उनके ही द्वारा करवाते थे।
मेरा और मेरे दादा का कोई खून का रिश्ता उनसे नहीं था विगत 8 माह पूर्व मुझे यह सूचना प्राप्त हुई कि तुम्हारी जमीन की रहीस खां एवं उसके पुत्र ने नसरुल्लागंज के निवासी जुबेर खां पुत्र बहीद खां पटेल को बेच दी , जो मेरी दादी शेताब बी के नाम से कृषि भूमि थी। उक्त भूमि की फर्जी तौर पर वसीयत बनवाकर अपने पुत्र के नाम नामंत्रण करवा लिया जब मुझे जानकारी प्राप्त हुई तो मैंने उनसे जमीन के बारे में पूछा तो वह मुझ पर काफी गुस्सा हुआ और अपशब्द कहे के तेरे बाप की जमीन थी क्या और अशोभनीय वार्तालाप किये ।

मेरे पति का विगत 10 अप्रैल 2021 को स्वर्गवास हो गया मेरी देखभाल करने वाला एकमात्र मेरा छोटा दामाद है। मुझे जानकारी प्राप्त हुई कि मेरा मकान फर्जी दस्तावेजों द्वारा बेच कर पैसा प्राप्त कर लिया गया है। दोषी व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई की जाए और मुझे अपना हक दिलाया जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close