UNCATEGORIZED

सरकार का नाजायज प्रहार

नायब तहसीलदार की मनमर्जी आई सामने,डंपर के ड्राइवर को पिटकर किया हाथ फ्रैक्चर

शिवराजसिंह राजपूत
सीहोर,एमपी मीडिया पॉइंट

आष्टा नायब तहसीलदार अंकिता वाजपेई एवं नायब तहसीलदार अतुल शर्मा के खिलाफ थाना प्रभारी आष्टा को एक आवेदन दिया। आवेदन में रूपसिंह पिता रतनसिंह यादव उम्र 29 वर्ष ने आवेदन देते हुए कहा कि मैं रेत की गाड़ी चलाता हूं। मैं रेत भरकर नसरुल्लागंज से मंदसौर जा रहा था। तभी रास्ते में आष्टा तहसील के ग्राम गवाखेड़ा गांव के पास नायब तहसीलदार अंकिता वाजपेई और अतुल शर्मा द्वारा रॉल्टी चेक करने का कहा जिसमे मेरे द्वारा रॉल्टी सहित कागज दस्तावेज लाइसेंस सभी दिखा दिए।
डंपर चालक रूपसिंह ने बताया कि मुझे नायब तहसीलदार ने कहा कि तेरी रॉल्टी फर्जी है।
मेरे मोबाइल पर बार कोड नहीं खुला तो उन्होंने मुझे अमलाहा चौकी पर डंपर खड़ा करने का आदेश दिया और चौकीदार को गाड़ी में बैठा दिया। तभी मैं गाड़ी चौकी पर ले जा रहा था तभी रास्ते मे डंपर का क्राश हो गया। जिसके कारण गाड़ी आगे नही जा पा रही थी। और गाड़ी बंद हो गई जिसके बाद साइड में बैठे चौकीदार ने नायब तहसीलदार को फोन लगाया और मैडम आई और उन्होंने कहा कि गाड़ी तूने खराब की हैं। और मुझे लाठी से पीटा जिसके कारण मेरे हाथ में फैक्चर आ गया। जबकि मैं खुद डंपर को अमलाहा चौकी पर ले जा रहा था। इस मामले में मैंने पुलिस प्रशासन को आवेदन दिया है।

—————————————

मेरे संज्ञान के मुताबिक किसी रेत के डंपर के ड्राइवर से पूछताछ की गई थी। जिसमें मुझे जानकारी मिली है कि ड्राइवर ने भागने की कोशिश की थी। ड्राइवर को फैक्चर जैसी जानकारी अभी मुझे नहीं मिली है। फिर भी मैं मामले की जांच करवाता हूं।

विजय मंडलोई
एसडीएम आष्टा

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close