सीहोर

अधिकारियों कुपोषित बच्चों को ले रहे गोद स्वास्थ और पोषण आहार की कर रहे व्यवस्था

कुपोषित बच्चों के घर पहुँच रहे,एसडीएम डीएस तोमर

शिवराजसिंह राजपूत
सीहोर,एमपी मीडिया पॉइंट

सीहोर जिले के नसरुल्लागंज में कुपोषित बच्चों को सरकारी कर्मचारी अधिकारी गोद लेकर उनके पोषण आहार की व्यवस्था कर रहे हैं। 14 नवंबर तक सभी कुपोषित बच्चों को कुपोषण से मुक्त किए जाने का अभियान चल रहा है। जिसके तहत मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान के निर्देशानुसार 14 नवम्बर तक जुलाई,अगस्त,सितम्बर अथवा पूर्व के माहो में चिन्हाकिंत सभी बच्चो को कुपोषण मुक्त करने का अभियान चलाने का निर्देश दिये गये थे। इसी संदर्भ मे कविंद्र कियावत संभाग आयुक्त, संभाग भोपाल ने नसरुल्लागंज क्षेत्र का दौरा किया एवं जनपद कार्यालय में अधिकारी कर्मचारियों की बैठक ली बैठक में सभी कर्मचारियों को कुपोषित बच्चों को 14 नवंबर से पूर्व कुपोषण मुक्त किए जाने की बात कही एवं कुपोषित बच्चों को गोद लेकर उनके स्वास्थ्य एवं पोषण आहार की व्यवस्था कर कुपोषण मुक्त किए जाने के संबंध में चर्चा की गई। संभाग आयुक्त के निर्देश के बाद कुपोषित बच्चों को गोद लिया गया। अब जिन कर्मचारी अधिकारियों ने कुपोषित बच्चों को गोद लिया है।उनके पोस्टिक आहार उनके के रूप मे कैलोरी , प्रोटीन कार्बोहाइड्रेट,तरल पदार्थ, खनिज और विटामिन युक्त खाद्यान पैकेट की व्यवस्था करेंगे जिससे कुपोषित बच्चों को पोस्टिक आहार आहार मिल सके एवं अधिकारी अपने भ्रमण में गोद लिये बच्चों की सतत् निगरानी के दौरान साफ स्वच्छता आहार संबंधी समझाइश इनके परिजनों को देंगे। जिससे कुपोषण मुक्त अभियान को सफल बनाया जा सके।

कुपोषित बच्चों के घर पहुँच रहे,एसडीएम डीएस तोमर

नसरुल्लागंज एसडीएम डीएस तोमर ने बताया कि पौष्टिक आहार पैकेट को अधिकारी स्वयं की स्वेच्छा से सीधे ही कुपोषित बच्चों को दे सकते है। अथवा महिला बाल विकास कार्यालय के माध्यम से कुपोषित बच्चों के परिजनों तक पहुंचा सकते हैं। अधिकारी स्वयं भी चिन्हित कुपोषित बच्चों के घरों पर पहुंचकर परिजनों से मुलाकात कर पोषण आहार एवं बच्चे को कैसे स्वस्थ रखें की जानकारी दे जिससे कि हमारा क्षेत्र शीघ्र कुपोषण मुक्त हो सके।

Related Articles

error: Content is protected !!
Close