भोपाल

तेज रफ्तार अनियंत्रित कार ट्रक से भिड़ी एयरबैग फ़टे चार की मौत,एक गंभीर

मिसरोद क्षेत्र में होशंगाबाद रोड पर देर रात हुआ हादसा,कटक से कार की बॉडी काटकर निकालने पड़े मृतको के शव

भोपाल,एमपी मीडिया पॉइंट

मिसरोद इलाके में होशंगाबाद रोड पर चिनार सिटी के सामने टाइल्स से भरे ट्रक और तेज रफ्तार कार की जबर्दस्‍त भिड़ंत हो गई। इसमें कार में सवार चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। इसमें एक की हालत गंभीर बनी हुई है। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मृतकों में दो की शिनाख्त हो गई। बाकियों की पहचान की जा रही है। कार की रफ्तार का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि कार पूरी तरह से चकनाचूर हो गई है। उसके एयरबैग तक फट चुके हैं। पुलिस ने मर्ग कायम कर चारों मृतकों के शव पोस्टमार्टम के लिए हमीदिया अस्पताल भिजवा दिए हैं। शुरुआती जांच में पता चला कि पांचों आपस में दोस्त थे। पहले दो युवक घर से निकले थे। बाद में बाकी दोस्तों को बुला लिया गया था।

मिसरोद थाना प्रभारी निरंजन शर्मा के अनुसार मृतकों की पहचान अवधपुरी निवासी हिमेश बरैया (30) और 25 साल के आदित्य पांडे के रूप में हुई। बाकी दोनों मृतकों की पहचान करने की कोशिश की जा रही है। घायल की पहचान हनी (30) निवासी अवधपुरी के रूप में हुई। देर रात को सूचना मिली कि लैंडमार्क चौराहे पर रात में करीब तीन बजे एक तेज रफ्तार कार ट्रक में पीछे से जाकर भिड गई। पुलिस ने जाकर मौके पर देखा तो कार में सवार चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई थी।

कटर मशीन बुलाकर निकालनी पड़ी लाशें

टीआइ निरंजन शर्मा का कहना है कि कार में बुरी तरह से चारों लाशें फंसी थी। घायल युवक दर्द से बुरी तरह से चीख रहा था। कार बुरी तरह पिचक चुकी थी। जेसीबी मशीन और नगर निगम से मदद मांगी गई। रात में ऑपरेशन चलाया गया। जिसमें घायल को बाहर निकालकर उसे अस्पताल पहुंचाया गया। चारों के शव का पंचनामा बनाकर हमीदिया अस्पताल में पोस्टमार्टम के भिजवाए गए हैं। ट्रक टाइल्स से भरा हुआ था। ट्रक को जब्त कर थाने में रखवा दिया गया है। इस ऑपरेशन में करीब दो घंटे लग गए।

बेंगलुरु में कर रहे थे नौकरी – शुरुआती जांच में पता चला कि दोनों मृतक बेंगलुरु में नौकरी करते थे। बाकी की जानकारी जुटा रहे हैं। पहले यह दोनों घर से निकले। बाद में बाकी तीन युवा कार में सवार हुए। मोबाइल और ड्राइविंग लाइसेंस से दो की पहचान हुई है।

एयरबैग फट गए- कार की रफ्तार का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है। हादसे के वक्त कार के एयरबैग खुले,लेकिन कोई मदद नहीं कर पाए। एयरबैग बुरी तरह से फट गए थे। कार का बोनट ट्रक के पीछे के हिस्से से चिपककर रह गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close