राष्ट्रीयहैल्थ

नई दिल्ली : कोरोना से दुनिया में हर तीसरी मौत भारत में हो रही है.

कोरोना का कोहराम

भारत अभी भी कोरोना महामारी की दूसरी लहर से जूझ रहा है.

दुनिया के 40 फीसदी से ज्यादा कोरोना मामले हर दिन भारत में दर्ज किए जा रहे हैं.

वहीं दुनिया में हर तीसरी मौत भारत में हो रही है.

नई दिल्ली: देश में कोरोना संक्रमण के नए मामले एक दिन गिरावट के बाद फिर बढ़ गए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, पिछले 24 घंटों में 208,921 नए कोरोना केस आए और 4157 संक्रमितों की जान चली गई है. वहीं 2,95,955 लोग कोरोना से ठीक भी हुए हैं. यानी कि 91,191 एक्टिव केस कम हुए हैं. इससे पहले सोमवार को 1,96,427 लाख नए केस दर्ज किए गए थे और 3511 संक्रमितों की मौत हुई थी.

देश में आज कोरोना की ताजा स्थिति-

कुल कोरोना केस- दो करोड़ 71 लाख 57 हजार 795

कुल डिस्चार्ज- दो करोड़ 43 लाख 50 हजार 816

कुल एक्टिव केस- 24 लाख 95 हजार 591

कुल मौत- 3 लाख 11 हजार 388

25 मई तक देशभर में 20 करोड़ 6 लाख 62 हजार 456 कोरोना वैक्सीन के डोज दिए जा चुके हैं. बीते दिन 20 लाख 39 हजार टीके लगाए गए. वहीं अबतक 33 करोड़ 48 लाख से ज्यादा कोरोना टेस्ट किए जा चुके हैं. बीते दिन रिकॉर्ड 22.17 लाख कोरोना सैंपल टेस्ट किए गए, जिसका पॉजिटिविटी रेट 9 फीसदी से ज्यादा है.

देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.14 फीसदी है जबकि रिकवरी रेट 89 फीसदी से ज्यादा है. एक्टिव केस घटकर 10 फीसदी से कम हो गए हैं. कोरोना एक्टिव केस मामले में दुनिया में भारत का दूसरा स्थान है. कुल संक्रमितों की संख्या के मामले में भी भारत का दूसरा स्थान है. जबकि दुनिया में अमेरिका, ब्राजील के बाद सबसे ज्यादा मौत भारत में हुई है.

14 राज्यों में रिकवरी रेट 90% या उससे ज्यादा
देश के 14 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना से ठीक होने वालों का प्रतिशत 90 या फिर इससे ज्यादा है. इसकी वजह से ही देश में एक्टिव केस की संख्या में कमी देखी जा रही है. देशभर में एक्टिव केस की संख्या घटकर 24 लाख हो गई, जो महीने में सबसे ज्यादा 37 लाख पर पहुंच गई थी.

सबसे ज्यादा रिवकरी रेट वाले राज्यों की बात करें तो इसमें सबसे ऊपर दिल्ली है, जहां 97 प्रतिशत रिकवरी रेट है. इसके बाद उत्तर प्रदेश, बिहार, और हरियाणा हैं जहां 94 प्रतिशत रिकवरी रेट है. महाराष्ट्र, तेलंगाना, झारखंड छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश में रिकवरी रेट करीब 93% के आसपास है. रिकवरी रेट के मामले में सबसे खराब स्थिति उत्तराखंड की है, जहां ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 80.7% के भी नीचे है. इसके बाद उत्तर पूर्व के राज्य मिजोरम, मेघालय, नगालैंड और सिक्किम हैं जहां रिकवरी रेट 70-80 फीसदी के बीच है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close